आर्थिक कार्य विभाग DEPARTMENT OF Economic Affairsnational emblem

Menu

You are here

होम >> प्रभाग >> मुद्रा और सिक्का डिवीजन

मुद्रा और सिक्का डिवीजन

करेंसी और सिक्का निर्माण प्रभाग मुख्य रूप से करेंसी नोटों और सिक्कों के संबंध में नीति निर्माण का कार्य करता है तथा करेंसी और सिक्‍कों के उत्पादन, योजना और छपाई/ढलाई की देखरेख करता हैं। यह भारत प्रतिभूति मुद्रण तथा मुद्रा निर्माण निगम इंडिया लिमिटेड के सामान्य पर्यवेक्षण के लिए उत्तरदायी है।

  1. एसपीएमसी अनुभाग
  2. सिक्का अनुभाग
  3. करेंसी I अनुभाग
  4. करेंसी II अनुभाग

प्रभाग प्रमुख का नाम और पता

श्री सौरभ गर्ग
संयुक्त सचिव (करेंसी और निवेश)
आर्थिक कार्य विभाग, वित्त मंत्रालय
कमरा नं 39 बी, नॉर्थ ब्लॉक,
नई दिल्ली.
टेली : 2309 2420
फैक्स नंबर - 2309 3504 , इंटरकॉम: 5043
ईमेल: s[dot]garg[at]gov[dot]in

करेंसी और सिक्‍का प्रभाग में अन्य अधिकारियों के नाम और संपर्क विवरण

एसपीएमसी अनुभाग

  • एसपीएमसीआईएल में बोर्ड स्‍तर के पदों की नियुक्ति।
  • एसपीएमसीआईएल की नौ इकाइयों के बचे हुए स्‍थापना संबंधी मामलों के कार्य करना।
  • एसपीएमसीआईएल की नौ इकाइयों के कर्मचारियों द्वारा दायर किए गए उन अदालती ममालों का कार्य करना, जहां भारतीय संघ एक पक्ष है।
  • समन्‍वय संबंधित विषय।
  • एसपीएमसीआईएल बोर्ड तथा एसपीएमसीआईएल पेंशन निधि पृष्‍ठ इत्‍यादि की बैठकों का समन्‍वय करना।
  • एसपीएमसीआईएल के साथ समझौता ज्ञापन करना।
  • एसपीएमसीआईएल की वार्षिक रिपोर्ट को तैयार करना।

सिक्का अनुभाग

  • परिचालन सिक्कों के डिजाइन, रूप और आकार के बारे में नीति निर्माण।
  • सिक्‍कों के उचित मूल्‍य का निर्धारण।
  • सिक्कों से संबंधित कानून।
  • स्मारक सिक्के
  • सिक्का निर्माण अधिनियम 2011
  • सिक्का निर्माण अधिनियम, 2011 के तहत अधिसूचना

करेंसी । अनुभाग

  • करेंसी नोटों/बैंक नोटों के डिजाइन, रूप और आकार से संबंधित नीतिगत विषय।
  • भारतीय बैंक नोटों की सुरक्षा संबंधी विशेषताओं से संबंधित मामले।
  • सुरक्षा स्‍वीकृति के मामले।
  • करेंसी से संबंधित कानून ।

करेंसी II अनुभाग

  • पेपर मिल परियोजनाओं आदि की स्‍थापना/मॉनीटरिंग सहित प्रेसों, टकसालों, कागज कारखानों, स्‍याही की फैक्‍टरी के विस्तार, उन्नयन और आधुनिकीकरण संबंधित मुद्दे।
  • एफआईसीएन मामलों से संबंधित।
  • इलेक्‍ट्रॉनिक लेनदेने को बढ़ावा देना।
  • रुपए के नए प्रतीक से संबंधित मामले।
  • कच्चे माल, मशीनरी और उपकरणों सहित डाक एवं राजस्व टिकटों, स्टेशनरी, एनजेएसपी, पासपोर्ट आदि से संबंधित मामलों का समन्वय।
  • पोस्‍टल स्‍टांप और स्‍टेशनरी के उचित मूल्‍य का निर्धारण।
  • करेंसी नोट और अन्य प्रतिभूति दस्तावेजों की छपाई के उत्पादन की योजना।
  • सीडब्‍ल्‍यूबीएन/प्रतिभूति कागज का प्री-शिपमेंट निरीक्षण, करेंसी सम्‍मेलन आदि।
  • करेंसी निदेशालय से संबंधित प्रशासनिक/स्थापना मामले।
Footer Menu